जल संरक्षण पर निबंध – Educational Dose

नमस्ते दोस्तों कैसे हैं आप, एक बार फिर से स्वागत आपका Educational Dose के इस नये पोस्ट ( जल संरक्षण पर निबंध) में, आज आप पढेंगे की जल संरक्षण किसे कहते हैं ? और किस तरह से जल की बर्बादी को रोका जा सकता है ? इस पोस्ट ( जल संरक्षण पर निबंध ) को आप ध्यान से पढिएगा तो चलिए शुरू करते है |

प्रस्तावना

इस पृथ्वी पर समस्त जीवन चक्र को बनाये रखने के लिए हवा, पानी, भोजन तीनो की बहुत ही आवश्यकता है | उनमे से जल प्रकृति की बहुत ही अनमोल धरोहर है बिना जल के इस पृथ्वी पर जीवन जीना असंभव है, क्योंकि जल है तो जीवन है जल की एक बूँद भी हर मनुष्य के लिए बहुत जरुरी है| हमारी एक पृथ्वी ही एक ऐसा ग्रह है जहाँ पर जल है और जीवन है | हमारी पृथ्वी पर लगभग 71 % जल है किन्तु उसमे से कुछ ही प्रतिसत जल पीने के योग्य है बाकी का पानी तो खारा है इसलिए हर मनुष्य का यह मूल कर्तव्य है की वह जल का सीमित उपयोग करे एवं जल संरक्षण में अपनी अहम भूमिका निभाए |

जल संरक्षण क्या है?

जल का उपयोग सही तरीके से करना एवं उसकी उपयोगिता को सीमित करना जल संरक्षण कहलाता हैं | आज के समय में जल संरक्षण हर मनुष्य के जीवन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा बन गया है क्योंकि शुद्ध जल को सीमित करना बहुत ही आवश्यक है जिसके लिए जल संरक्षण बहुत ही ज्यादा जरुरी है |

जल का उपयोग हर वर्ग के लोगो के लिए आवश्यक है जल का स्थानीय उप्तोग से लेकर कृषि और उद्योग तक एक मूलभूत आवश्यक अंग है और जल से ही इनकी पूर्ति होती है अत: हमे इस प्रकृति के देंन का उपयोग बहुत ही संभल कर करना चाहिये एवं इस प्राकृतिक धरोहर का संरक्षण करना हमारा मूल कर्तव्य हैं |

जल संरक्षण की आवश्यकता

जिस तरह से इस पृथ्वी पर मनुष्य की आबादी एवं उद्योग बढ़ते जा रहे है और उन्ही कि वजह से जल इस प्रकार से दूषितं होता जा रहा है जिसकी वजह से कुछ ही दिनों में जल पीने के योग्य बिलकुल नहीं रह जायेगा और यह संकट हमने खुद उत्पन्न किया है जल संरक्षण की आवश्यकता इसलिए जरूरी है क्योकि आज का मनुष्य जल की उपयोगिता को न समझ कर जल को बेवजह ही नष्ट कर रहा है जिसकी वजह से हमारी आने वाली पीढ़ी इस जल के संकट से घिर जाएगी और अगर हमे अपनी आने वाली पीढ़ी को इस संकट से बचाना है तो हमे जल संरक्षण की बहुत ही ज्यादा आवश्यकता है | और यह हर मनुष्य का कर्तव्य है की वह जल का सदुपयोग करे दुरुपयोग न करे |

Also Read

Indian Woman Essay In Hindi

Life Is Struggle In Hindi


जल की कमी के कारण हमारे पर्यावरण का संतुलन भी बिगड़ रहा है और भूमि बंजर होती जा रही है और वन्य जीवो पर भी संकट आ रहा है |
जल पूरी दुनिया के लिए एक वरदान है और धरती पर इसका सीमित स्रोत हमें इस बात की ओर संकेत करता है कि हम जल संरक्षण की ओर विशेष रूप से ध्यान दें, तांकि जल की एक-एक बूंद के लिए हमारी आने वाली पीढ़ी को संघर्ष करना पड़े।

जल संकट के आवश्यक घटक

जल संकट का कारण बढ़ती हुई जनसंख्या और अशिक्षित समाज है। बढ़ती जनसंख्या के कारण वनों की कटाई बहुत ही तेजी से हो रहा हैं जोकि जल संकट ( सूखा) के लिए एक विशेष कारण है, वनों के काटने से पेड़ों से पानी के स्रोत पृथ्वी में ज्यादा नीचे तक नहीं जा पाते हैं जिससे वहा की भूमि बंजर होती जा रही है |

वनों के कटने के कारण वहां की जमीन बंजर होती जा रही है जिससे वहां की भूमि कृषि उपयोगी भी नहीं रहती है, इसलिए जल संरक्षण के लिए पौधों का लगाया जाना बहुत ही आवश्यक है। तथा जल स्रोतों की रक्षा करना ही हमारा कर्तव्य है और जल संकट से बचने के लिए एकमात्र उपाय है अतः मनुष्य को नदी, तालाब, झील, सरोवर आदि के जल को स्वच्छ एवं साफ़ सुथरा रखना चाहिए जिससे हमें आने वाले समय में जल संकट का सामना न करना पड़े।

आधुनिक दुनिया में जल संकट का जिम्मेदार बड़े-बड़े कारखाने भी हैं जो अपने कारखाने में उपयोग होने वाले जल को दूषित करने के बाद नदियों के स्वच्छ जल में कारखानो का कचरा छोड़कर उसे भी प्रदूषित कर देते हैं जिससे उन नदियों का स्वच्छ जल हमारे उपयोग के लायक नहीं रह जाता है। अतः कारखानों को जल दूषितं न हो ऐसा कुछ कार्य करना चाहिये एवं नदियों तालाबो में अपने कारखानों का कचरा नहीं डालना चाहिये, ताकि जल दूषित न हो |

जल संरक्षण अधिनियम

  • जल प्रदूषण निवारण एवं नियंत्रण के लिए जल संरक्षण अधिनियम 1974 के अंतर्गत गठित केंद्रीय जल प्रदूषण नियंत्रण कमेटी को समय-समय पर नदी एवं जलाशयों के प्रदूषण का परिक्षण करना एवं साफ़ सुथरा करना चाहिये |
  • औद्योगिक कंपनियों से निकले कचरे की निगरानी करना चाहिये |
  • प्रदूषित जल के उपचार की सस्ती विधियों को बदलकर नयी विधियों का विकास करना चाहिये |
  • जहाँ पर नदी, तालाब, झील दूषित हो वहां के नागरिको को स्वच्छता के नियम को समझाना चाहिये |
  • नियम एवं कानून को सख्त किया जाना चाहिये जिनका अनुपालन सभी के लिए आवश्यक हो,नहीं तो जो इन नियमो का पालन न करे उन्हें कड़े दंड एवं कठोर कानून कार्यवाही किया जाना चाहिये तभी जल प्रदूषण पर लगाम लगाया जा सकता है एवं जल संरक्षण को पूर्ण रूप से विकसित किया जा सकता है।

जल संरक्षण की उपयोगिता

ऐसे बहुत से उपाय है जिससे हम जल संरक्षण कर सकते हैं यदि मनुष्य जल का सीमित उपयोग करें और उसे बचाने के लिए उचित कदम उठाता है तो अधिक समय तक जल का भंडार बना रह सकता है।
जल संरक्षण ही जल संकट से निकलने का एकमात्र उपाय है।

अगर हम वर्षा के जल को एकत्र करें तो हम साल में होने वाली जल की कमी को पूरा कर सकते हैं। वर्षा के जल को हम नदी, झील, जलाशय, तालाब, पोखरे एवं छोटे-छोटे गड्ढों का निर्माण करके उसमें वर्षा के जल को संरक्षित करके हम जल संरक्षण का कार्य बखूबी कर सकते हैं।

घरेलू उपयोग में

बर्तन धोने में,वाहन धोने में, नहाने में और हम अपने घर की साफ सफाई में भी इस संरक्षित जल का उपयोग करके हम शुद्ध जल की बर्बादी को कम कर सकते हैं। यदि हम अपने कर्तव्य को समझ ले और जल का सही उपयोग करें तो हम जल संरक्षण में अपनी पूर्ण भागीदारी दे सकते हैं।

कृषि कार्य में उपयोग

वर्षा का जल बहुत ही ज्यादा उपयोगी होता है जिससे सिंचाई का कार्य किया जा सकता हैं | अगर हम वर्षा के जल से सिंचाई करेंगे तो भूमि की गुणवत्ता भी जाएगी, जिससे हमारी फसलों की पैदावार बहुत ही अच्छी होगी |

करखानो में उपयोग

कारखानों में भी संरक्षित जल का उपयोग करना चाहिए जिससे शुद्ध जल की बचत हो सके और कारखानों में बहुत भारी मात्रा में जल का उपयोग होता है इसलिए कारखानों के मालिकों का यह कर्तव्य है की वह जल संरक्षण करे |

उपसंहार

जल संरक्षण के महत्व को हमें इस तरह से समझ लेना चाहिए कि हमारी इस पृथ्वी पर पीने का स्वच्छ जल बस कुछ ही प्रतिशत बचा है और मनुष्य इसी प्रकार से जल का दुरुपयोग करते रहेंगे तो आने वाली पीढ़ियों के लिए स्वच्छ जल बचेगा ही नहीं हर तरफ सिर्फ और सिर्फ दूषित जल ही बचेगा | अतः हमे जागरूक होने की आवश्यकता है और हमे अपनी जिम्मेदारी को निभाते हुए हमे अपने राष्ट्र एवं सभी देशों को जल संरक्षण के लिए प्रयास करना चाहिए।

मुझे आशा है दोस्तों की आप को आज का ये पोस्ट ( जल संरक्षण पर निबंध ) पसंद आया होगा | यदि आपको मेरा यह पोस्ट( जल संरक्षण पर निबंध ) अच्छा लगा है, और इससे आपको कुछ जानने को मिला है, और लगता है यह जानकारी अन्य लोगो को भी मिलनी चाहिये तो इसे आप Social Media पर जरूर Share कीजिये जिससे इसकी जानकारी और भी लोगो को मिले और वो भी जाने जल संरक्षण के बारे में….


यदि आपके मन में कोई सवाल है मेरी इस पोस्ट( जल संरक्षण पर निबंध ) से तो comment करके जरूर बताये मै उसका जवाब देने की पूरी कोशिश करूंगा …

Leave a Reply

Your email address will not be published.