दोस्तों आज के इस पोस्ट हिंदी पर्यायवाची शब्द में मैंने बहुत ही महत्त्वपूर्ण प्रयायवाची शब्दों का संग्रह लाया है जो आपके आगामी परीक्षाओं के लिए बहुत ही महत्त्वपूर्ण शाबित हो सकता है।

कपड़ा 👉 चीर, बसन, पट, अम्बर, वस्त्र
कामदेव 👉 मदन, मनोज, मयान, रतिपति, मकरध्वज
कमल 👉 पंकज, जलज, इंदीवर, राजीव, उत्पल, अरविन्द
कृष्ण 👉 मोहन, मुरारी, गोपाल, वासुदेव, यदुनंदन, राधारमण
काक 👉 कौआ, वायस, काग, पिशुन, करठ
खग 👉 विहग, विहंग, द्विज, शकुनि, पखेरू
गंगा 👉 सुरसरिता, अमरतरंगिणी, मन्दाकिनी, विष्णुपदी, त्रिपथगा
गणेश 👉 गजपति, गजानन, वक्रतुण्ड, गौरीसुत
घट 👉 घड़ा, कलश, कुम्भ, निप
घर 👉 निलय, शाला, सदन, निकेतन, निवास
घास 👉 दूर्वा, कुश, शाद
चन्द्रमा 👉 सुधांशु, राकापति, द्विजराज, मयंक, सुधाकर, निशाकर, राकेश. मृगांक, हिमकर, इंदु
चांदी 👉 रजत, रूपा, रूपक, रौप्य, चन्द्रहास
छवि 👉 शोभा, सौंदर्य, कांति, प्रभा,
छानबीन 👉 पूछताछ, अन्वेषण, गवेषण, शोध
जल 👉 पानी, नीर, अम्बु, सलिल, अमृत, तोय, उदक, वारिय
जंगल 👉 विपिन, कानन, अरण्य, वन
जानकी 👉 वैदेही, जनकसुदा, जनकतनया, जनकात्मजा
झरना 👉 उत्स, स्रोत, प्रपात, निर्झर, प्रस्रवण
झंडा 👉 ध्वजा, पताका

Also Read :- तत्सम और तद्भव शब्द


ढील 👉 शिथिलता, सुस्ती, अतत्परता
तलवार 👉 असि, करवाल, चन्द्रहास, खड्ग, कृपाण, शमशीर
तालाब 👉 पद्माकर, सरसी, तड़ाग, पुष्कर, सरोवर, सर
अंधकार 👉 तिमिर, तम, अँधेरा, तमिस्रा
तीर 👉 शिलिमुख, सायक, नाराच, शर, बाण
दया 👉 अनुकम्पा, कृपा, संवेदना, अनुग्रह, सहानुभूति
दिन 👉 दिवा, दिवस, वासर
दाँत 👉 द्विज, रद, रदन, दशन
दूध 👉 दुग्ध, अमृत, पय, क्षीर
धरती 👉 अवनि, मेदिनी, धरा, वसुधा, वसुंधरा, भू
नदी 👉 वाहिनी, तरंगिनि, तटनी, निर्झरणी, निम्नगा, सरिता, आपगा
नेत्र 👉 अक्ष, लोचन, चछु, नयन, चख
पत्नी 👉 कांटा, भार्या, वल्ल्भा, वामा, दारा, कलत्र, जाया
पर्वत 👉 शैल, अचल, नग, भूधर, महीधर, धराधर, गिरि
पिता 👉 तात, जनक, पितृ
पुत्र 👉 तनय, सुत, आत्मज, नंदन,
पवन 👉 वायु, हवा, समीर, अनिल, मारुत, पवमान
पुष्प 👉 प्रसून, गुल, सुमन, कुसुम, फूल
बदल 👉 जलद, जलधर, नीरद, पयोद, मेघ, वारिद, वारिधार।
बिजली 👉 चपला, चंचला, दामिनी, सौदामिनी, तड़ित, विद्दुत, बाजरा, क्षणप्रभा, घनवल्ली।
ब्रम्हा 👉 स्वयंभू, अज, पितामह, विधाता, कमलासन, नाभिजन्म, कर्तार, विरंचि, विधि।
महादेव 👉 आशुतोष, चंद्रशेखर, पशुपति, त्रिलोचन, शिव।
माँ 👉 अम्बा, अम्बिका, अम्मा, जननी, धात्री, प्रसू।
मृत्यु 👉 पंचत्व, काशीवास, गंगालाभ, निर्वाण।
यम 👉 जीवदेश, सूर्यपुत्र, धर्मराज, कृतांत, अन्तक, दण्डधर, कीनाश।
यमुना 👉 सूर्यसुता, भानुजा, अर्कजा, रवितनया, कालिंदी, तरणि-तनूजा।
रात्रि 👉 शर्वरी, यामिनी, रैन, तमस्विनी, विभावरी।
लक्ष्मी 👉 रमा, कमला, सिंधसुता, पद्मजा, इंदिरा, कमलासना, श्री।
विष्णु 👉 माधव, केशव, गोविन्द, चतुर्भज, दामोदर, जनार्दन, नारायण, विश्वम्भर, केशव।
सरस्वती 👉 भर्ती, शारदा, गिरा, विमला, वागेश्वरी, वागीश।
समुद्र 👉 सागर, सिंधु, उदधि, नदीश, वारीश, रत्नाकर, अर्णव, तोयनिधि, सरित्पति।
सूर्या 👉 दिनकर, दिवाकर, भानु, भास्कर, रवि, अर्क, तरणि, पतंग, आदित्य, सविता, हंस, अंशुमाली, मार्तण्ड।
स्त्री 👉 सुंदरी, काँटा, कलत्र, रमणी, महिला, ललना, वनिता।
सेना 👉 ऊनी, कटक, दल, चमू, अनीक।
हिमालय 👉 नगपति, हिमपति, नगराज, हिमाद्रि, हिमगिरि, गिरिराज।
हनुमान 👉 पवनसुत, पवनकुमार, महावीर, रामदूत, मारुततनय, कपीश्वर, केशरीनंदन।